सुखी खासी को ठीक करने के घरेलू उपाय | Sukhi Khansi Ke Gharelu Nuskhe

मौसम सर्दी का हो या गर्मी का कई बार लोगो को सुखी खासी के करना पड़ता है जो की बेहद खतरनाक होती है। क्युकी इसमें खांसते-खांसते पूरे पेट में और पसलियों में दर्द होने लगता है। खांसी वैसे तो जुकाम और फ्लू के साइड इफेक्ट से होती है, लेकिन कई लोग मौसम बदलने की वजह से ही इसके संपर्क में आ जाते हैं। अगर आप लंबे समय से सूखी खांसी से परेशान हैं, तो आज हम आप सभी के लिए कुछ घरेलू नुस्खे लेकर आये है जो जल्द ही आपको खांसी को खत्म करने में सहायक होंगे।

(1) शहद और अदरक

आज हम लेकर आये है शहद और अदरक किस प्रकार सुखी खासी को ठीक करते है यह तो आप सभी को पता है की हर भारतीय रसोई में शहद और अदरक मिल ही जाते हैं. शहद और अदरक में कई औषधिय गुण होते हैं. दोनों में ही हीलिंग प्रोपर्टी होती हैं और साथ ही साथ इम्यूनि‍टी बूस्ट करने में भी ये काफी मददगार हैं. आयुर्वेदिक विशेषज्ञ डॉक्टर आशुतोष गौतम ने बताया है की अदरक में फलेगम होता है जो एंटीमाक्रोबायल गुणों से भरपूर है.
आप अदरक को पीस कर साफ़ कपडे में डाल ले।और उसके बाद एक कटोरी में इस रस को इकक्ठा कर के इसमें शहद मिला लें।अब इसे थोड़ी थोड़ी देर में पितें रहे। इससे गले की खुश्की को नमी मिलती है और अदरक का रास खांसी को कम करता है।

(2) सुखी खासी में गर्म पानी की भूमिका

यह तो आपको पता है की खांसी और उससे होने वाली गले की तकलीफों से निज़ाद पाने का सबसे आसान नुस्खा है गरम पानी के गरारे करना।तो आप सुबह और शाम एक गिलास गुनगुने पानी में एक चम्मच नमक मिला कर अच्छे से गरारे करने से गले में कष्ट देने वाले कीटाणुओं का नाश हो जाता है और गले को आराम मिलता है।तो आप गरम पानी के गरारे करे।

(3) हल्दी का उपयोग

हल्दी आमतौर पर हर घर में आसानी से मिल जाती है और हल्दी प्राचीनकाल से ही रसोई के साथ-साथ हमारे शरीर के लिए भी उतनी गुणकारी मानी गयी है। यदि आपको सुखी खासी है तो सूखी खांसी के लिए हल्दी बहुत अच्छा इलाज है हल्दी का प्रयोग आयुर्वेद में बहुत समय से होते आ रहा है. हल्दी हमारे सौन्दर्य को निखारने के साथ स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होता है.

(i )आप आधे कप पानी को उबाल लें
(ii )उसमें एक छोटा टुकड़ा हल्दी का दाल ले।
(iii) एक दलचीनी स्टिक और 4-5 काली मिर्च मिलाएं

विधि : अब इन सभी को मिलाने के बाद इसे 3-4 मिनट तक उबालें फिर इसमें एक चमच्च शहद की मिलाये। और फिर इसे दिन में 2-3 बार पियें जब तक आपको आराम न मिल जाए.ये आपकी सुखी खासी में आराम दिलाने में मदद करता है।

(4) मसाले वाली चाय

आप लोग सोच रहे होंगे की मसाले वाली चाय क्या है तो हम आपको बता दे की तुलसी, काली मिर्च, लॉन्ग और अदरक ये ऐसे चार मसाले है जो आसानी से हर घर में मिल जाते है आज आपको इनका उपयोग बताते है की किस प्रकार ये सुखी खासी को ठीक करते है तो
सर्दी का मौसम हो या तेज़ बरसात का मसाले वाली चाय के नाम से मन खुश हो जाता है। सुखी खांसी होने पर तुलसी, काली मिर्च, लॉन्ग और अदरक की बनी मसाला चाय के सेवन से बहुत आराम मिलता है। इसे पिने से गले और सीने का इन्फेक्शन दूर होता है और कुछ ही दिनों में सुखी खांसी से छुटकारा मिलता है।

ध्यान रखें– यदि आपको लंबे समय से खांसी आ रही है और साथ ही बलगम में खून निकल रहा है, तो डॉक्टर से जरूर सलाह लें. जब खांसी दो हफ्ते से ज़्यादा लंबे समय तक बनी रहती है, तब इसका डायग्नॉस्टिक टेस्ट करना महत्वपूर्ण हो जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *