लौंग खाने के फायदे | laung khaane ke phaayade

लौंग की भारतीय खाने में खास जगह है। इसके उपयोग से खाने में स्वाद के साथ-साथ कुछ अहम गुण भी जुड जाते हैं। इसका उपयोग तेल व एंटीसेप्टिक रुप में किया जाता है। लौंग में आपके स्वास्थ्य को दुरुस्त रखने के कई गुण होते हैं।लौंग में होने वाला एक खास तरह का स्वाद इसमें होने वाले एक तत्व युजेनॉल की वजह से होता है, यही तत्व इसमें होने वाली एक खास तरह की गंध को पैदा करता है। हालांकि लौंग हर मौसम में हर उम्र के व्यक्तियों के लिए लाभदायक है पर सर्दी के मौसम में इसकी खास उपयोगिता है क्योंकि इसकी तासीर बहुत गर्म होती है। लौंग के तेल की तासीर काफी गर्म होती है और इस कारण इसे बहुत सावधानी से इस्तेमाल करना चाहिए। जब आप अपनी त्वचा पर इसे लगाएं तो सीधे तौर पर बिना किसी चीज़ के साथ मिलाए न लगाएं।

अगर आपके दांतों में अत्यधिक दर्द है, तो आप 5-6 लौंग का चूर्ण बनाकर, जिस दांत में दर्द हो रहा है वहां लगा सकते हैं। इस प्रकार आप लौंग के जरिए दांतों के दर्द का इलाज कर सकते हैं लौंग में यूजेनिया नामक तत्व दांतों के दर्द को कम करने का काम करता है।खांसी और बदबूदार सांसों के इलाज के लिए लौंग बहुत कारगर है। लौंग का नियमित इस्तेमाल इन समस्याओं से छुटकारा दिलाता है। आप लौंग को अपने खाने में या फिर ऐसे ही सौंफ के साथ खा सकते हैं।

सामान्य तौर पर होने वाली सर्दी को लौंग से दुरुस्त किया जा सकता है। आप लौंग के तेल की दस बूंदों को शहद के साथ मिलाकर दिन में दो से तीन बार इस्तेमाल करके अपनी सर्दी को ठीक कर सकते हैं।लौंग का इस्तेमाल शरीर से जुड़ी गंभीर बीमारियों के लिए भी किया जाता है, जिसमें मधुमेह भी शामिल है। मधुमेह वो चिकित्सकीय स्थिति है, जिसके अंतर्गत रक्त में शर्करा की मात्रा अधिक हो जाती है। मधुमेह को नियंत्रित करने के लिए आप लौंग का सेवन कर सकते हैं। लौंग में विटामिन-के और जरूरी मिनरल्स जाते हैं। इसके अलावा, इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण भी मौजूद रहता है। इसका रोजाना इस्तेमाल रक्त में शकर्रा की मात्रा को कम कर देता है। आप डायबिटीज के लिए लौंग का प्रयोग यहां बताई गई विधि के अनुसार कर सकते हैं।

अगर आप त्वचा संबंधी समस्याओं जैसे मुंहासों, ब्लैकहेड्स,और व्हाइट हेड्स से परशान हैं तो उपाय लौंग के तेल में छुपा हुआ है। आपको इसको अपने फेसपैक में मिलाकर इस्तेमाल करें क्योंकि यह काफी गर्म होता है और इसको सीधे त्वचा पर नहीं लगाया जा सकता है।लौंग का तेल अन्य किसी भी तेल के मुकाबले सबसे ज्यादा एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होता है। एंटीऑक्सीडेंट स्वस्थ त्वचा और शरीर् को तंदुरुस्त रखने में बहुत कारगर होते हैं। लौंग के तेल में मिनरल्स जैसे पोटेशियम, सोडियम, फॉस्फोरस, आयरन, विटामिन A, और विटामिन C अत्यधिक मात्रा में होते हैं।

लौंग खाने का एक फायदा सूजन की समस्या से निजात भी है। लौंग में यूजेनिया नामक तत्व पाया जाता है, जो इसे एक कारगर एंटीइंफ्लेमेटरी एंजेंट बनाता है। गले और मसूड़ों में होने वाली सूजन को इसके जरिए ठीक किया जा सकता है। लौंग का एंटी इंफ्लेमेटरी गुण कैनडिडा से लड़ने में मदद करता है।लौंग के इस्तेमाल से बनी चाय से बालों को बहुत फायदा होता है। लौंग की चाय को बाल कलर करने और शैम्पू करने के बाद लगाना चाहिए। इसे ठंडा करने के बाद ही बालों पर इस्तेमाल करना चाहिए। आपके बालों को सुंदर बनाने में यह बहुत कारगर है।

सिरदर्द जैसी आम समस्याओं के लिए भी लौंग काफी फायदेमंद है। लौंग के एंटीऑक्सीडेंट, एंटीफंगल और एंटीवायरल गुण सिरदर्द की समस्या को खत्म करने का काम करते हैं। शोध में माना गया है कि सिरदर्द के मामले में लौंग पेरासिटामोल की तरह असरदार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *