पेट दर्द की परेशानी का घरेलू उपाय | Pet dard kee pareshaanee ka ghareloo upaay

पेट दर्द एक आम समस्या है। हर कोई समय-समय पर खाने या पीने के बाद पेट में गड़बड़ी, अपच, दर्द या ऐंठन का अनुभव करता है। आमतौर पर पेट दर्द की शिकायत कुछ समय या लंबे समय तक हो सकती है। ये दर्द कम या तेज हो सकता है। इसके कई कारण हो सकते हैं। यदि आपको भी अक्सर पेट दर्द होता है तो दवा खाने के बजाए घरेलू उपाय अपनाएं, क्योंकि पेट दर्द के लिए ज्यादा दवा खाना आपके शरीर के लिए हानिकारक साबित हो सकता है।

अदरक का उपयोग पेट दर्द का घरेलू उपचार के रूप में किया जा सकता है। दरअसल, अदरक में एंटीअल्सर, जो पेट दर्द का कारण बनने वाले अल्सर से आराम पाने में मदद कर सकते हैं। इसके अलावा, अदरक में एंटीट्यूमर गुण भी पाए जाते हैं, जिनकी मदद से पेट में बनने ट्यूमर से आराम मिल सकता है और परिणामस्वरूप पेट के दर्द में भी कमी आ सकती है। इनके साथ अदरक पेट से जुड़ी अन्य समस्याएं जैसे ऐंठन, गैस, अपच से आराम पाने में भी मदद कर सकता है

अजवायन को तवे पर सेंक कर पीस लें। इस चूर्ण को आधी चम्मच मात्रा में लें और ठंडा पानी पी लें। पेट दर्द दूर हो जाएगा।अजवायन के चूर्ण में काला नमक मिला कर गर्म पानी के साथ लेने से पेट की तकलीफ दूर हो जाती है।अपच के कारण हुए पेट दर्द से जल्दी राहत देने में सौंफ काम आ सकती है। गैस, सूजन आदि लक्षणों से भी राहत देने में मदद करती है।

पुराने समय से भारत में पेट से जुड़ी समस्याओं से आराम पाने के लिए हींग का उपयोग किया जा रहा है। माना जाता है कि इसमें मौजूद एंटीस्पास्मोडिक गुणों के कारण इसका उपयोग पेट दर्द के घरेलू नुस्खे के रूप में किया जा सकता है। साथ ही, यह गैस की समस्या से होने वाले पेट दर्द से भी आराम दिला सकता है

पेट दर्द के साथ ही जलन भी हो रही हों तो ठंडे पानी में थोड़ा मीठा सोड़ा डालकर पीने से लाभ होता है।भोजन के बाद 3-4 इलायची के दाने चबा कर नींबू पानी पीने से भी पेट दर्द दूर हो जाता है।

जीरे का इस्तेमाल मसाले के तौर पर किया जाता है, लेकिन इसकी उपयोगिता मात्र मसाले तक सीमित नहीं है। पेट से जुड़ी कई समस्याओं के निवारण के लिए इसका प्रयोग एक औषधि के तौर पर किया जाता है। माना जाता है कि जीरे का अर्क इरिटेबल बाउल सिंड्रोम के लक्षण जैसे पेट में दर्द, ऐंठन, पेट फूलना, मतली और कब्ज से आराम पाने में लाभदायक हो सकता है। जीरे के इन गुणों के कारण पेट में दर्द का इलाज करने के लिए इसका उपयोग किया जा सकता है।