पालक खाने के सेहत के लिए लाभ | Palak khane ke fayde

हरी पत्तेदार सब्जी खाने की सलाह हर डोक्टर के द्वारा दी जाती है. हरी सब्जियों में सभी पोषक तत्व प्रचुर मात्रा में होते है. हरी सब्जियों के नाम पर सबसे पहले पालक को याद किया जाता है. पालक स्वाद के अलावा स्वास्थ्य के लिए भी बहुत अच्छा होती है. पालक सबसे अधिक ठंड के मौसम में आती है, और ठण्ड में इसे खाने के फायदे भी बहुत है. वैसे आजकल 12 महीने सभी सब्जियां मिल जाती है, लेकिन बरसात में आने वाली पालक में मिट्टी व कीटाणु बहुत होते है, इसलिए इसे इस मौसम में नहीं खाना चाहिए. खून की कमी होने पर सबसे पहले लोग पालक खाने की सलाह देते है, इससे शरीर में हीमोग्लोबिन बढ़ता है. पालक को हमेशा अच्छे से 2-3 बार साफ पानी से धोकर खाना चाइये. पालक सलाद व सब्जी के रूप में खाया जाता है. पालक के पकोड़े भी बहुत स्वादिष्ट लगते है.

अगर आप भी बढ़े हुए वजन से परेशान हैं, तो पालक का सेवन वजन घटाने में मदद कर सकता है। ऐसा इसलिए संभव हो सकता है, क्योंकि पालक में वजन घटाने संबंधित गुण पाए जाते हैं। दरअसल, वजन घटाने के लिए सबसे जरूरी है कि आप कैलोरी की कम मात्रा का सेवन करें। पालक एक कम कैलोरी वाला खाद्य पदार्थ है, जिसे आहार में शामिल कर आप अपने बढ़ते वजन को नियंत्रित करने का काम कर सकते हैं पालक में मैग्नीशियम, विटामिन्स व रेशा होता है, जो कैंसर की बीमारी के कीटाणु को शरीर में आने से रोकता है, व लड़ने में भी सहायक होता है.हार्ट अटैक, या दिल से जुड़ी सभी बीमारियों को पालक खाकर दूर किया जा सकता है.

पालक का नियमित सेवन एनीमिया से बचाता है। यह आयरन का एक उत्कृष्ट स्त्रोत है। आयरन की जरूरत शरीर में ऊर्जा के लिए भी आवश्यक है क्योंकि यह हीमोग्लोबिन का एक कॉम्पोनेन्ट है, जो शरीर के सभी कोशिकाओं में ऑक्सीजन पहुंचाता है।इसमें विटामिन C भी होता है, जो ब्लीडिंग की परेशानी दूर करता है.पालक खाने से आँखों की रोशनी बढ़ती है, साथ ही रात का अंधेपन की परेशानी दूर होती है.

हड्डियों को स्वस्थ रखने के लिए कैल्शियम सबसे जरूरी पोषक तत्व है, जो हड्डियों के निमार्ण से लेकर उनके विकास में मदद करता है और उन्हें मजबूती प्रदान करता है। पालक में कैल्शियम की मात्रा पाई जाती है, इसलिए हड्डियों के स्वास्थ्य को बरकरार रखने के लिए आप पालक को दैनिक आहार में शामिल कर सकते हैंपालक में फाइबर भी होता है, जिससे पेट की परेशानी अल्सर, अपच, कब्ज, एसिडिटी दूर होती है.

हाइपरटेंशन या हाई ब्लड प्रेशर के कारण किडनी की बीमारी ह्रदय रोग के लिए जिम्मेदार होती है। हाइपरटेंशन को कम करने में कच्चे पालक का उपभोग फायदेमंद है क्योंकि इसके कुछ गुण तनाव और चिंता को कम करने में सहायता करता है। विटामिन सी भी हाइपरटेंशन और हाई ब्लड प्रेशर को कम करने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

पालक खाने के फायदे ब्लड प्रेशर से होने वाले जोखिम को कम कर सकता है। पालक में नाइट्रेट की मात्रा पाई जाती है। नाइट्रेट युक्त पालक ब्लड प्रेशर को कम करने में लाभदायक परिणाम दिखा सकता है। साथ ही साथ यह स्थिति हृदय स्वास्थ्य को भी लाभ पहुंचाने के काम आ सकती है।बाल आपकी सुन्दरता का मुख्य पार्ट होते है, बालों में खुजली आम समस्या है, सबके सामने ऐसा करने से शर्मिंदगी का सामना करना पड़ता है. बालों को मजबूत घना बनाने के लिए हेयर टॉनिक या केमिकल युक्त शैम्पू का उपयोग न करें. इसकी जगह आप रोज पालक का सूप पियें. पालक में विटामिन B काम्प्लेक्स भी होता है, जिससे बालों की परेशानी दूर होती है.

मुहांसों की समस्या से अगर आप परेशान हैं, तो निश्चिंत रहिए क्योंकि पालक में मौजूद पोषक तत्व इस समस्या को ठीक करने के काम आ सकते हैं। दरअसल, विटामिन-सी की कमी से मुहांसों की समस्या बढ़ सकती है । वहीं पालक में विटामिन-सी की पर्याप्त मात्रा पाई जाती है। इसलिए, पालक का सेवन करके विटामिन-सी की कमी से होने वाली मुहांसों की समस्या को दूर किया जा सकता है।उम्र के साथ चेहरे पर आने वाली झुरियां, मुहांसे, दाग धब्बे पालक खाने से दूर हो जाते है.पालक का जूस रोज पीने से चेहरे पर ग्लो आता है, इससे स्किन हाइड्रेटेड भी रहती है.क्रीम या कोई दवाई उपयोग करने की जगह पालक का जूस रोज पीना चाहिए.