हल्दी खाने के फायदे और नुकसान | Haldi khane ke fayde aur Nuksan

ऐसा मना जाता है की भारत की रसोई में हल्दी मसालों की रानी मानी जाती है क्योंकि यह टेस्ट के साथ डिश को अच्छी लुक देने का काम भी करती है।सिर्फ स्वाद ही नहीं ही सेहत के लिहाज हल्दी के औषधीय गुण होते है वहीं लोग हल्दी के कैप्सूल, हल्दी वाला दूध आदि के रूप में भी हल्दी का इस्तेमाल करते हैं हालांकि भले ही एंटीआक्सीडेंट गुणों से भरपूर हल्दी शरीर के लिए फायदेमंद है लेकिन जरूरत से ज्यादा सेवन नुकसान भी पहुंचाता है।

हल्दी की तासीर बहुत गर्म होती है, इसलिए ही इसे सर्दी जुकाम में दवा के तौर पर प्रयोग किया जाता है। लेकिन अगर आपकी तासीर गर्म है तो इसका इस्तेमाल सावधानी से करना चाहिए। खास तौर से गर्मी के मौसम में।पीलिया होने पर, पित्ताशय की पथरी या पित्त की रुकावट होने पर हल्दी उतनी ही घातक हो सकती है लितनी यह फायदेमंद है।जिन्हें खून की बीमारी है और रक्तस्राव का खतरा हो, उनके लिए हल्दी नुकसानदायक है। क्योंकि यह रक्त के थक्के बनने की प्रक्रिया को धीमा कर देती है।

हल्दी का सेवन मधुमेह के जोखिम को भी कम करने में सहायक हो सकता है। दरअसल, एक शोध में प्रीडायबिटिक आबादी पर 9 महीने तक करक्यूमिन का उपयोग लाभकारी साबित हुआ। इसका उपयोग डायबिटीज के जोखिम को कम करता पाया गया।इसके अलावा, करक्यूमिन का एंटी-डायबिटिक गुण मधुमेह में होने वाली किसी प्रकार की जटिलता के जोखिम को भी कम करने में सहायक हो सकता है। ऐसे में अध्ययनों के अनुसार, 12 ग्राम तक करक्यूमिन का सेवन सुरक्षित है। हालांकि, बेहतर है इस बारे में डॉक्टरी परामर्श भी ली जाए, क्योंकि डायबिटीज में हल्दी के सेवन और उसकी मात्रा से संबंधित और जांच की आवश्यकता है।

कई लोग हल्दी का उपयोग खांसी या सर्दी-जुकाम के लिए कई सालों से औषधि की तरह करते आ रहे हैं, क्योंकि हल्दी की तासीर गर्म होती है। गर्म दूध में हल्दी पाउडर डालकर सेवन करने से खांसी की समस्या काफी हद तक कम हो सकती है।इतना ही नहीं हल्दी में मौजूद एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण के कारण इसका सेवन ब्रोंकाइल अस्थमा के लिए भी असरदार हो सकता है।ध्यान रहे, अगर खांसी कई दिनों से है तो बेहतर है कि एक बार डॉक्टरी परामर्श भी जरूर लें।

हल्दी खाने के नुकसान :

अत्यधिक हल्दी का सेवन हल्दी के साइड इफेक्ट का कारण बन सकता है। इससे किडनी स्टोन की समस्या हो सकती है। हल्दी में ऑक्सालेट जो इसका कारण बन सकता है एसिडिटी या गैस की प्रॉब्लम के अलावा पेट में अल्सर होने पर भी हल्दी वाला दूध नुकसान करता है। ऐसे लोगों को हल्दी वाला दूध नहीं लेना चाहिए।

हल्दी का जरूरत से ज्यादा और लगातार सेवन करने से पेट खराब रह सकता है। इसका पाचन क्रिया पर बुरा प्रभाव पड़ने लगता है। इसमें डायरिया, गैस और कब्ज की समस्या आम है।