ग्रीन टी के फायदे | Green tea ke fayde

ग्रीन टी में पॉलीफेनॉल्स भरपूर मात्रा में होता है. पॉलीफेनॉल्स असल में एंटी-ऑक्सीडेंट व एंटी फ्लेमेटरी होते हैं, जो डायबिटीज के मरीजों में दिल के रोगों के खतरे को कम करने में मददगार है. ग्रीन टी उन लोगों के लिए बहुत बढ़िया है जो डायबिटीज से जूझ रहे हैं, क्योंकि डायबिटीज मेटाबॉलिक सिस्टम को बेहतर बनाती है.

इसके रोजाना पीने से शरीर में वास कम होता है और पेट की चर्बी घटती है।यह मोटापा और मधुमेह को नियंत्रित करने में मदद कर सकती है और साथ ही कैंसर जैसी घातक बीमारी के जोखिम से बचाव में भी कुछ हद तक सहायक हो सकती है ग्रीन टी में मौजूद कैटेशिन इंसुलिन के प्रभाव को कम करता है. यह कार्बस के प्रभाव को कम कर सकता है.

ग्रीन टी आपकी त्वचा में जान डालने के लिए भी बहुत अच्छा विकल्प है. ग्रीन टी में चीनी मिलाकर इसका प्रयोग चेहरे की मृत कोशिकाओं को हटाने के लिए फेस स्क्रब के रूप में भी कर सकते हैं. ग्रीन टी एक बेहतरीन टोनर है, जो कि बंद पड़े रोम छिद्रों को खोलने में मदद करती है. इसके साथ ही साथ इसे बालों को साफ करने और उन्हें स्वस्थ रखने में भी प्रयोग किया जा सकता है.

ग्रीन टी का सेवन मस्तिष्क के लिए भी लाभकारी हो सकता है।ग्रीन टी चिंता को कम करने के साथ-साथ मस्तिष्क की कार्यप्रणाली में सुधार कर सकती है।यह एकाग्रता बढ़ाने में भी सकारात्मक प्रभाव प्रदर्शित कर सकती है।इन सभी लाभ के पीछे ग्रीन में मौजूद कैफीन और एल-थीनाइन का संयुक्त प्रभाव हो सकता है।ऐसे में संतुलित मात्रा में इसका सेवन किया जा सकता है।

ग्रीन टी पीने का सही समय और नुकसान :

i. खाली पेट कभी भी ग्रीन टी न पिएं.
ii. खाना खाने से एक या दो घंटे पहले ही ग्रीन टी पी लें.
iii. खाने के तुरंत बाद ग्रीन टी पीना खतरनाक हो सकता है.
iv. एक दिन में दो या तीन कप ये ज्यादा ग्रीन टी पीना खतरनाक हो सकता है.
v. ग्रीन टी के सेवन से पेट दर्द, मतली और लिवर संबंधी समस्या हो सकती है।