लोंग की चाय कैसे बनाते है | How to make long tea (long ki chai kaise banate hai)

आज हम बात करते है लोंग की चाय की। लोंग की चाय कैसे बनाई जाती है और इसके क्या क्या फायदे होते है कई लोग खाने को स्वादिस्ट बनाने के लिए गरम मसाले में लौंग का इस्तेमाल करते है।और लौंग की चाय भी इन्हीं में से एक है, जो खास तौर से सर्दियों में बेहद फायदेमंद होती है।

लौंग की चाय कैसे बनाये :-

(1)सबसे पहले आप एक चम्मच लौंग को बारीक़ पीस लें।
(2)उसके बाद इसे एक कप पानी में डालकर 10 मिनट उबलने दें।
(3) जब ये उबलने लग जाये तब इसमें आधा चम्मच चाय पत्ती मिलाकर इसे कुछ और देर उबलने दें।
(4)उसके बाद इसको छान लें।
अब आपकी चाय तैयार है अब गर्मागर्म पियें या फिर फ्रिज में रख लें इस्तेमाल के वक्त गर्म करते पियें।

लौंग की चाय के फायदे :-

(i) लोंग की चाय सर्दी-जुकाम से कैसे बचाती है?
आपको बता दूँ की सर्दी से बचने के लिए लौंग की चाय बेहद लाभकारी है क्युकी लौंग की तासीर गर्म होती है इसलि‍ए ठंड के दिनों में दिन में या फिर मौसमी बदलाव में 2 से 3 बार इसे पीने आप सर्दी, खांसी और जुकाम से बचे रहते हैं.इसलिए इसका सेवन करे।

(ii) शरीर के दर्द से राहत देता है।
इसकी चाय पिने से यह शरीर के अंगों और मसल्स में होने वाले दर्द से निजात पाना चाहते हैं तो लौंग की चाय जरूर पिएं और इसके अलावा अगर आप चाहें तो लौंग की चाय से दर्द वाले स्थान की सिकाई कर सकते हैं जिससे आपको दर्द से आराम मिलता है।

(iii) दांतों के दर्द से दिलाए आराम।
आपको बता दूँ की दांतों में दर्द होने पर अक्सर लौंग के तेल का प्रयोग किया जाता है इस समस्या से राहत पाने के लिए लौंग की चाय भी बहुत फायदेमंद हो सकती है और इसके अलावा कफ और गले की जकड़न के लिए भी लौंग की चाय लाभदायक है।

दलिया कैसे बनाये | How to make porridge (Daliya kaise banaye)

आपको बता दूँ एक नवजात शिशु कम से कम छह महीने तक मां के दूध पर निर्भर रहता है। इसके बाद उसे दूध के साथ-साथ ठोस आहार की भी जरूरत होती है। हर माता-पिता चाहते हैं कि बढ़ती उम्र के साथ उनके शिशु को सही पोषण मिले।इस स्थिति में दलिया शिशु के लिए संपूर्ण आहार हो सकता है।बच्चे हो या बड़े दलिया हर किसी को पसंद होता है। और खाना भी चाहिए आज में आपको दलिया बनाना बताता हूँ।

(i) दलिया 125 ग्राम लें ।
(ii) 2 टमाटर बारीक कटे हुए।
(iii) हरा धनिया बारीक कटा हुआ।
(iv) हरा मिर्च बारीक कटा हुआ।
(v) आधा छोटा चम्मच नमक।
(vi) आधा छोटा चम्मच लाल मिर्च पाउडर।
(vii)आधा छोटा चम्मच धनिया पाउडर।
(viii) आधा छोटा चम्मच हल्दी पाउडर।

(1) सबसे पहले आप एक बर्तन में दलीये को डाल दें।

(2)उसके बाद आप उसमे पानी डाल कर उबलने को रख दे।

(3)जब यह उबलने लग जाये तब इसमें 2 टमाटर बारीक कटे हुए डाल दें।

(4)उसके बाद उसमे बारीक कटी हुई हरी मिर्च डाल दें।

(5)उसके बाद उसमे आधा छोटा चम्मच नमक,आधा छोटा चम्मच लाल मिर्च,आधा छोटा चम्मच धनिया पाउडर और आधा छोटा चम्मच हल्दी डाल कर अच्छे से मिक्स कर के उबलने दे।

जब यह अच्छे से उबाल जाये तब इसको थोड़ी देर ढक कर रख दे। फिर आप इसको गर्म व ठंडा दोनों तरह से इसको खा सकते हो। इस प्रकार आप दलिया बना सकते हो।

आंवले का मुरब्बा कैसे बनाये | How to make gooseberry jam (Amla Murabba Recipe)

आपको बता दूँ की आंवला हमारे शरीर के लिए बहुत गुणकारी होता है और इसमें आयरन और विटामिन-सी प्रचुर मात्रा में पाया जाते है. आंवले का मुरब्बा बहुत ही स्वादिष्ट होता है। आंवला सर्दी के मौसम में ही बाजार में मिलता है और इसी मौसम में हम इससे अचार या मुरब्बा बना कर रख सकते हैं

(i) 1 किलो आंवला लें।
(ii) 1.5 किलो चीनी लें।
(iii) 8-10 बारीक़ पीसी हुई इलाइची लें।
(iv) आधा छोटी चम्मच केसर लें
(v) आधा छोटी चम्मच काली मिर्च लें।
(vi) 1 छोटी चम्मच काला नमक लें।

(1) सबसे पहले आप आंवले को किसी बड़े बर्तन में डाल कर उबाले ले।

(2) फिर उबाले हुये आंवले को किसी बड़े बर्तन में डालकर रख दे।

(3) उसके बाद उसमे चीनी डालकर भर कर ढक दें।

(4) अब आप इसका 4-5 घंटे बाद आंवले का जूस निकल कर चीनी को घोलकर चाशनी बनाने लगता है और अब हम उसी चाशनी में आंवले को पका कर मुरब्बा बना लें

(5) मुरब्बा को और अच्छा बनाने के लिए आप उसमे काली मिर्च ,केसर ,कला नमक ,पीसी हुई इलायची डाल कर अच्छे से मिक्स कर लें।

इस प्रकार आपका आंवले का मुरब्बा तैयार है और आंवले का मुरब्बा यदि अच्छी तरह पक गया है तब यह मुरब्बा 2 साल तक भी खराब होने वाला नहीं है इसको आप कांच के सूखे कन्टेनर में ये मुरब्बा भरकर रख लीजिये और जब भी आपका मन हो कन्टेनर से मुरब्बा निकाल सकते है।

ध्यान रहे ;-
(i) आंवले को आप ज्यादा देर तक पानी में नहीं उबाले इसके टूटने का दर रहता है।
(ii) मुरब्बे की चासनी को अच्छे से पका ले जिससे जल्दी खराब होने का डर नहीं होता है यदि चासनी अच्छी होगी तो यह लम्बे समय तक चल सकती है।

पपीते का जूस कैसे बनाये | How to make papaya juice (Papite ka juice kaise banaye)

जैसा की आप सभी जानते है की पपीते का जूस गर्मी के दिनों में सबको सबको पसंद आता है। इसको बनाना बहुत आसान है आज हम आपको पपीते का जूस बनाना बता रहे है।इसका साथ ही पपीते का सेवन करने के भी अनेक फायदे है जैसे कोलेस्ट्रॉल कम करन में सहायक पपीते में उच्च मात्रा में फाइबर मौजूद होता है.वजन घटाने में एक मध्यम आकार के पपीते में 120 कैलोरी होती है.जो आपके शरीर को ठीक रखता है।

पका हुआ एक पपिता ले।
चीनी 3-4 चम्मच ले
दूध एक गिलास।
आईस क्युब 3-4 ले।

(1)सबसे पहले आप पपीते को अच्छे से साफ़ कर के धो ले। और उसको अच्छे से काट ले।

(2)उसके बाद आप उसमे चीनी डाल कर दोनों को बारीक़ पीस लें।

(3)उसके बाद उसमे आप दूध डाल कर अच्छे से मिक्स कर ले

(4)जब आप यह सब डाल कर उसको पीस ले तब आप उसमे आईस क्युब डाल कर रख दे।
आप इसको ठंडा होने के बाद इसका सेवन करे।इस प्रकार आप घर पर भी पपीते का जूस बना सकते है।

नींबू पानी कैसे बनाते है | How do you make lemonade (nimbu Pani kaise banate hai)

आपको बता दूँ की गर्मी के दिन शुरू हो गये है।गर्मियों में तेज धूप हो या फिर रसोई में 10 मिनट में काम करने के बाद अगर एक गिलास नींबू पानी मिल जाए तो आपको काफी एनर्जी मिल जाती है।आपको बता दूँ भारत में गर्मी के मौसम में नींबू पानी खूब पीया जाता है।नींबू पानी बनाने की रेसिपी भी बहुत आसान है नींबू में कुछ मसाले और ठंडा पानी डालकर इसे बनाया जाता है।उत्तर भारत में नींबू पानी को शिकंजी और लेमनोड के नाम से भी कहा जाता है।जिन्हें आप इस बार गर्मी के मौसम में तैयार कर सकते हैं।

(i) 500 ग्राम पानी लें।
(ii) 2 निम्बू लें।
(iii) 150 ग्राम चीनी पाउडर लें।
(iv) आधा चम्मच नमक लें।
(v) आधा चम्मच काला नमक लें।
(vi) आधा चम्मच जीरा पाउडर लें।
(vii) 4 पीस बर्फ के टुकड़े लें।

(1) सबसे आप एक बर्तन में पानी ले।

(2) उसके बाद आप उसमे चीनी डाल कर अच्छे से मिक्स कर लो।

(3) 2 निम्बू काट कर उसका रस निचोड़ लें।

(4) आधा चम्मच नमक डाल कर मिला लें।

(5) आधा चम्मच काला नमक और आधा चम्मच जीरा पाउडर डाल कर मिला लें।

(6) बर्फ के टुकड़े डाल कर मिला लें।

इस प्रकार आप घर पर ही निम्बू पानी बना सकते है। इससे आपको हाई ब्लड प्रेशर से भी राहत मिलती है। ये तनाव और डिप्रेशन जैसी परेशानियों को भी कम करने में असरदार होता है।

लौकी का हलवा कैसे बनाये | How to make gourd pudding (Loki ka halwa kaise banaye)

आपको बता दूँ की लौकी से बनी हुई मिठाई सबको पसंद हैं इसको आप दूध, मावा और ड्राय फ्रूट्स मिलाकर बना सकते है।लौकी का हलवा बहुत आसानी से बन जाता है इसे किसी भी पार्टी के लिये बना सकते हैं

(i)1 किलो लौकी लें।
(ii) 300 ग्राम चीनी लेवें।
(iii) 250 ग्राम मावा लेवें।
(iv) 1कप क्रीम वाला दूध लेवें।
(v) 50 ग्राम घी लेवें।
(vi) 15-20 काजू की टुकड़ी लेवें।
(vii) 15-20 बादाम की टुकड़ी लेवें।
(viii) 6-7 बारीक़ पीसी हुई इलायची लेवें।

(1)आपको बता दूँ की हलवा बनाने के लिए लौकी को धो कर ले लीजिए।लौकी को 3-4 इंच के बड़े टुकड़ों में काट कर चारों तरफ से कद्दूकस कर लीजिए, इसके बीच के नरम भाग और बीज को हटा दीजिए

(2)उसके बाद आप काजू और बादाम को छोटे-छोटे टुकड़ों मे काट कर तैयार कर लीजिए और इलायची को छीलकर इसके बीजों का पाउडर बना लीजिए।

(3)अब आप एक पैन ले।और उस पैन को गैस पर गरम कर दीजिए और लौकी को पैन में पकने के लिए डाल दीजिए और दूध को डालकर अच्छे से मिला दीजिए।पैन को ढककर लौकी को 3-4 मिनट तक धीमी आंच पर पकने दीजिए।

(4)अब आप लौकी को चैक कीजिए लौकी हल्की-सी नरम हो जाये तो गैस कम कर दीजिये।और अगर लौकी में दूध दिख रहा है तो आप गैस की आंच को तेज करके दूध के खत्म होने तक लौकी को 1-2 मिनट चलाते हुए पकाएं।

(5)उसके बाद इसमें मावा ,काजू और बादाम डाल कर अच्छे से पकाये और ठंडा होने को रख दे।

ठंडा होने के बाद इसका सेवन करे।

सूजी का हलवा कैसे बनाते है | How to make semolina pudding(Suji ka halwa kaise banate hai)

आपको बता दूँ की सूजी का हलवा लोकप्रिय इंडियन डिस है जिसे सूजी और चाशनी से तैयार किया जाता है।भारत में आमतौर पर पूजा के मौके पर सूजी का हलवा बनाया जाता है यह शर्दियों में बहुत बनाया जाता हैं।और यह लोग को बहुत पसंद आता है आज हम आपको बताने जा रहे है इसको घर में कैसे बनाते है।

(i)100 ग्राम सूजी लें।
(ii) 100 ग्राम घी लें।
(iii) 110 ग्राम चीनी लें।
(iv)थोड़ी बहुत किशमिश लें।
(v)8 से 10 काजू लें।
(vi)8 से 10 बादाम लें।
(vii) 4 इलाइची लें।

(1) सबसे पहले आप कढ़ाई गैस पर रखिये और फिर उसमें आधा घी डाल दीजिये घी गरम होने के बाद उसमें सूजी डाल दीजिये और कलछी की सहायता से चलाते हुये सूजी को ब्राउन होने तक भूनिये।और थोड़ी देर बाद गैस को धीमी करके हल्का डार्क ब्राउन होने तक भूनते जाये।

(2)उसके बाद आप सूजी को अच्छे से भून ले जब अच्छे से भून जाये तब 2 कप पानी और चीनी डालकर मिला दीजिए और फिर धीमी गैस फ्लेम पर हलवे को पकने दीजिये और हलवे को बीच-बीच में मिक्स कर के हिलाते रहे।

(3)उसके बाद उसमे थोड़ी बहुत किशमिश डाल दें।

(4) उसमे काजू ,बादाम,और इलाइची डाल कर अच्छे से मिक्स कर ले।

तो इस तरह आपका हलवा तैयार है और ठंडा होने पर इसका सेवन करें।

बेसन का चूरमा कैसे बनाते है | How to make gram flour churma(Besan ka Churma kaise banate hai)

आपको बता दूँ की बेसन चूरमा के लड्डू बहुत पसंद किये जाते हैं।चूरमा अनेको तरह से बनाया जाता है।जैसे बाटी चूरमा, बाजरे का चूरमा, आटे का चूरमा।आज हम राजस्थानी बेसन का चूरमा बनाने जा रहे हैं।

(i) 2 कप बेसन।
(ii) 250 ग्राम मावा।
(iii) 1 कप घी।
(iv) 200 ग्राम बूरा।
(v) 1/2 चम्मच छोटी इलायची पाउडर।
(vi) 2-3 चम्मच कटे मेवे।
(vii) बेसन तलने के लिए घी ले।

(1)सबसे पहले आप आप बेसन लें।

(2)बेसन लेने के बाद आप उसमे घी मिला कर उसको अच्छे से आटे के जैसे बना ले।

(3)अब बेसन की पुड़िया बना कर उसको तेल में सेक ले।

(4)जब ये अच्छे से सिक जाये तब इसको ठंडा होने के बाद आप इसको मिक्सी में पीस लो।

(5)बारीक़ पीसने के बाद आप इसको एक बर्तन में डाल कर इसमें बुरा मिला ले।

(6)बुरा मिलाने के बाद आप इसमें मावा मिला दे।

(7)मावा अच्छे से मिक्स करने के बाद आप उसमे इलायची पाउडर मिला दे।

सारा समान मिलाने के बाद आप उसको अच्छे से मिक्स कर के रख दे।और उसके बाद आप उसको सेवन करे। और आप बेसन के चूरमा को पूरी तरह ठंडा़ होने के बाद कन्टेनर में भर कर रख दीजिए और 8-10 दिन तक खाते रहिये.इसको आप लम्बे समय तक खा सकते है।

चूरमा कैसे बनाया जाता है | How to make churma ladoos (Churme ke laddu kaise banaye)

जैसा की आप सभी जानते है की चूरमा एक पारंपरिक राजस्थानी स्वीट डिश है।और जिसे ‘दाल बाटी’ के साथ सर्व किया जाता है जिसे एक साथ ‘दाल बाटी चूरमा’ कहा जाता है।और यह बहुत प्रसीद हैं और इस डिश की सबसे अच्छी बात यह है कि इसे घर पर आसानी से उपलब्ध सामग्रियों की मदद से बनाया जा सकता है।

(i) एक कप गेंहू का आटा।
(ii)3 बड़े चमच्च सूजी के ले।
(iii)3 बड़े चमच्च चीनी लें।
(iv)आवसकतानुसार घी ले।
(v)आधा छोटी चमच्च इलायची पाउडर ले।
(vi)काजू और बादाम टुकड़ी लें।

(1) सबसे पहले आप आटा में सूजी मिला कर आटा लगा कर उसको अच्छे से सेक लें।

(2) जब वह अच्छे से सिक जाये तब उसको बारीक़ पीस कर सेक ले।

(3) बारीक़ पीसने के बाद उसमे चीनी मिला लें।

(4) उसके बाद उसमे घी मिला लें।

(5) अच्छे से घी मिलाने के बाद आप उसमे छोटी चमच्च इलायची पाउडर मिला लें।

(6) इलायची पाउडर मिलाने के बाद उसमे काजू और बादाम टुकड़ी मिला लें।

आप इसके लडडू बनाना चाहे तो बना सकते है या आप इसको खुला भी रख सकते है।आप इसको घर में भी बना सकते है।

गाजर आलू की सब्जी कैसे बनाये | How to make Carrot Potato Vegetable (ghajar aalu ki sabji kaise banate hai)

जैसा की आप सब जानते है की आलू की सब्जी तो आपके रोजाना खाने का हिस्सा होगी ही. लेकिन क्या आपने गाजर आलू की सब्ज़ी बनाई है आज हम गाजर आलू की सब्ज़ी बनाना बताते है तो इसका स्वाद और भी बढ जाता हैं हमारे द्वारा बताई गई विधि से गाजर आलू की सब्जी बनाने पर सभी को बहुत पसन्द आयेगी।

(i) 250 ग्राम गाजर लें।
(ii) 250 ग्राम आलू लें।
(iii) एक छोटी चम्मच तेल लें।
(iv)आधा चम्मच हींग लें।
(v) एक छोटी चम्मच जीरा लें।
(vi) 2-3 हरी मिर्च लें।
(vii) बारीक़ कटा हुआ अदरक लें।
(viii) एक छोटी चम्मच हल्दी पाउडर,धनियां पाउडर,लाल मिर्च पाउडर लें।
(ix) स्वादानुसार नमक लें।
(x) हरा धनियां कटा हुआ लें।

(1)सबसे पहले आप गाजर को अच्छे से धो कर बारीक़ काट लें।

(2)उसके बाद आप आलू को भी उसके साथ काट लें।

(3)अब आप एक कड़ाई में तेल गर्म करें।

(4)जब तेल गर्म हो जाये तब आप उसमे थोड़ा सा जीरा डाल दें।

(5)जब जीरा पक जाये उसके बाद आप उसमे थोड़ा सा हींग और बारीक़ कटी हरी मिर्च डाल दें।

(6) एक छोटी चम्मच हल्दी ,धनियां ,लाल मिर्च पाउडर डाल कर मिक्स कर लें।

(7) इसके बाद आप इसमें कटा हुआ हरा धनिया डाल कर मिक्स करे

(8) इस प्रकार आप घर पर आलू गाजर की सब्जी बना सकते है।